फिल्मों में सशक्त महिलाओं के किरदार दिखाए जाने की जरूरत- यामी गौतम

0 41

यामी गौतम ने कई तरह के रोल किए हैं, फिर चाहे बात विक्की डोनर या काबिल की हो या फिर सरकार 3 की। इस एक्ट्रेस ने हमेशा अपने रोल को अच्छी तरह समझा है और इसे अपना बनाया है। अपनी आने वाली फिल्म उरी में भी वह इसी तरह से काम कर रही हैं। इस फिल्म के लिए एक्ट्रेस ने फिजिकल फिटनेस के साथ-साथ अपने पूरे लुक को भी बदल दिया है। वह एक बिल्कुल नए अवतार में नज़र आएंगी जिसका दर्शकों को लंबे समय से इंतजार था। यामी कहती हैं कि उरी एक मिलिट्री ड्रामा है, जो भारतीय सेना द्वारा उरी, कश्मीर में 2016 में की गई सर्जिकल स्ट्राइक की रियल लाइफ इंसीडेंट पर आधारित है।

अपने कैरेक्टर में पूरी तरह ढल जाने के लिए यामी गौतम ने अपने बालों को छोटा कराया है, ताकि वह इंटेलिजेंस ऑफिसर की तरह दिखें। हालांकि उनके पिता को उन्हें छोटे बालों में स्वीकारने में समय लगा, क्योंकि पहले उनके लंबे और घने बाल थे। यामी को खुद लंबे बालों की आदत भुलाने में समय लगा है। यामी कहती हैं कि जिस दिन मैंने अपने लंबे बाल कटाए, मैं उन्हें याद कर रही थी, क्योंकि बालों को छूने की मेरी आदत थी। लेकिन अब इसकी आदत हो गई है। मेरी मां और बहन को यह हेयरस्टाइल पंसद आई, लेकिन डैड को मुझे छोटे बालों में स्वीकारने में समय लगा। यामी कहती हैं कि इससे पहले जब मैं सातवीं क्लास में थी तो मेरे बाल छोटे थे, इसलिए जब डैड ने छोटे बालों में मेरी तस्वीरें देखी, तो उन्हें लगा कि मैंने विग पहन रखी है। उन्होंने मुझसे पूछा कि क्या यह असली है, और जब मैंने कहा हां, तो वह दुखी हो गए, लेकिन जब लोगों ने कहना शुरू किया कि मैं प्यारी लग रही हूं, तो वह खुश हुए।

यामी कहती हैं कि जब वह उरी की शूटिंग कर रही थीं, उस समय वह सैन्य बलों के कर्मियों की कहानियों से बहुत प्रभावित हुईं। उन्होंने कहा कि इस तरह की कहानियों को जरूर सामने लाना चाहिए। यामी गौतम कहती हैं कि उरी मेरे कॅरियर की खास फिल्म होगी। यामी भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट जनरल का रैंक पाने वाली पहली महिला पुनीता अरोड़ा और साल 1992 में सेना में महिलाओं को भर्ती करने के लिए तत्कालीन सेना प्रमुख को पत्र लिखने वाली और एक साल बाद ही इसका हिस्सा बन जाने वाली प्रिया झिंगन से प्रेरित हैं। वह कहती हैं कि फिल्मों में भी ऐसी सशक्त महिलाओं के किरदार दिखाए जाने चाहिएं। यामी सैन्य बलों पर अधारित इस सच्ची कहानी का हिस्सा बनकर बेहद उत्साहित है। इतना ही नहीं, इससे उन्हें भारतीय सेना की उन महिलाओं की कहानियों के सामने आने की उम्मीद दी है, जो अपने क्षेत्र में अग्रणी रहीं हैं। यामी कहती हैं कि जिस जिस तरह से कंटेंट विकसित हो रहा है और बेहतरीन कहानियां सामने आ रही हैं, उसमें ज्यादा सशक्त महिलाओं की कहानियों की बहुत जरूरत है। हालिया फिल्मों में कुछ शानदार सशक्त प्रभावशाली महिलाओं के किरदार देखने को मिले हैं।

अब तक यामी को स्ट्रॉन्ग किरदारों में ही देखा गया है। क्या उन्होंने तय कर रखा कि उन्हें खास तरह के कैरेक्टर ही करने हैं? इस सवाल पर वह कहती हैं कि मैंने ऐसी कोई लिस्ट नहीं बना रखी है कि मुझे इस तरह के किरदार ही करने हैं लेकिन चाहती हूं कि कैरेक्टर पॉवरफुल हो। मैं शुरू से ही कुछ अलग तरह का काम करना चाहती हूं और जब मुझे रोल भी वैसा ही मिलता है, तो समझो मेरी ख्वाहिश पूरी हो जाती है। उरी में आपके बोले डॉयलॉग्स ऐसे हैं जिनसे लगता है कोई इंडियन लडक़ी किसी को गाली दे रही हो। इसपर यामी कहती हैं कि ऐसा कुछ नहीं है। उरी में मेरे द्वारा सिंपल तरीके से डॉयलॉग्स बोले गए हैं जिसका कोई नेगेटिव रिएक्शन नहीं है। मुझे उम्मीद है कि इस बार मेरा यह रूप भी दर्शकों को चौंकाएगा।

➡ मायापुरी की लेटेस्ट ख़बरों को इंग्लिश में पढ़ने के लिए www.bollyy.com पर क्लिक करें.
➡ अगर आप विडियो देखना ज्यादा पसंद करते हैं तो आप हमारे यूट्यूब चैनल Mayapuri Cut पर जा सकते हैं.
➡ आप हमसे जुड़ने के लिए हमारे पेज FacebookTwitter और Instagram पर जा सकते हैं.

Leave a Reply