Browsing Tag

Bahu Begum

कलर्स की प्रस्तुति बहू बेगम, एक निकाह के द्वारा तीन जीवन एक साथ रहने को मजबूर

'दोस्ती के हक़ बड़े और मुहब्बत के फ़र्ज़ कड़े होते हैं'! प्यार और दोस्ती दोनों को संभाला जाता है, लेकिन यह आश्चर्यजनक है कि क्या होता है जब आप अपने जीवन की दो सबसे मूल्यवान चीजों में से एक को चुनने के लिए मजबूर होते हैं। जब अज़ान, शायरा और…
Read More...