पर्दे के पीछे: योगिता बाली – बनी पूरी घरवाली

0 333

मायापुरी अंक, 56, 1975

पहले रात के ग्यारह बजे शादी की जब खबर छपी तो योगिता ने झट से सब पेपर वालों को लैटर टाइप करके भेज दिए मेरा किशोर कुमार से कोई रिश्ता नही है। लैटर अभी छप भी नही पाये थे कि उसका विचार बदल गया। दोबारा शादी कर डाली प्रेसवालों को बुलाते हुए शर्म आती थी लेकिन फोटो खिंचवा कर सबके पास भेज दी ताकि पब्लिसिटी में कमी न रहे। बेंगलौर के स्टाडफार्म में हनीमून मनाने चले गये। लेकिन जाते-जाते वह कह गई कि फिल्मों से वह रिटायर नही होगी, वह काम करती रहेगी।

लेकिन निर्माता अब उसे जबरदस्ती रिटायर कर रहे हैं। सब लोग किशोर के सनकी स्वभाव को जानते है। इसलिए जिन दो-चार निर्माताओं ने योगिता बाली को साइन कर रखा था। उन्होंने अपने विचार बदल दिये है क्या पता वह कभी शूटिंग पर पहुंचे कि नही?
उसके पास दो-तीन पिक्चरें हैं जो बंद पड़ी है और उनका हीरो है… किरण कुमार..?

Leave a Reply