बर्थ एनिवर्सरी: श्रीदेवी के कुछ ऐसे शानदार रूप जो हमेशा दिलों में रहेंगे जिंदा

0 265

श्रीदेवी बेहद खूबसूरत होने के साथ बेहतरीन अदाकारा भी थीं। वेसे तो वह अपने समय की मशहूर लोकप्रिय अभिनेत्रियों में से एक थीं। लेकिन श्रीदेवी ने अपने करियर की शुरुआत महज़ चार साल की उम्र से ही कर दी थी और 4 साल की उम्र से लेकर 54 साल तक बॉलीवुड इंडस्ट्री पर राज किया है। हम चाह कर भी अपनी चुलबुली हवा-हाई को भूल नही पायेंगे। सभी के दिलों पर राज़ करने वाली श्रीदेवी ने हमे अपने बेहतरीन किरदारों की कईं यादें दी है ,आईये  आज उनके जन्मदिन के मौके पर जानते है उनकी ऐसी भूमिकाएं जिन्होंने हमे उनका दीवाना बना दिया….

1.हिम्मतवाला (1983)

बॉलीवुड की बेहद खूबसूरत अभिनेत्री ने अपने करियर कि शुरुआत “सोलवा सावन” से की थी लेकिन उन्हे असली पहचान 1983 में आई फिल्म ‘हिम्मतवाला से मिली। इस फिल्म के गीत “नैनो में सपना” और ‘ताकी रे ताकी’ दोनों सुपरहिट गीत थे। जिसमे बॉलीवुड को श्रीदेवी के रूप में एक क्लासिकल डांसर भी मिली। इसी गीत से श्रीदेवी की डांसिंग कलाकार की इमेज सामने आई जिसे लोगो ने बहुत पसंद किया।

सदमा (1983)

हिम्मतवाला के बाद उसी साल श्रीदेवी की एक और फिल्म रिलीज़ हुई फिल्म ‘सदमा’ जिसमे वो कमल हासन के साथ नजर आयीं। इस फिल्म से श्री ने उन्हें एक जोरदार जवाब दिया जिन्हें यह लगता था। कि यह अभिनेत्री अभिनय के लिए नहीं बनी है। लेकिन इस फिल्म मे उन्होंने अपने अभिनय का प्रदर्शन देकर सभी लोगो को मुंह तोड़ जवाब दिया। यह फिल्म उनके करियर की उचाईयों की एक सीढ़ी थी।

नगीना (1986)

श्रीदेवी ने इस फिल्म में एक नागीन की भूमिका निभाई थी। उनका यह अवतार दर्शकों को बेहद पसंद आया रहा और वो सिल्वर स्क्रीन पर सुपरहिट भी रहा। उनकी तुलना 1976 में आई रीना रॉय की नागिन से बेहतर नागिन माना जाने लगा। श्रीदेवी ने सभी दर्शक को मंत्रमुग्ध कर दिया था।

मिस्टर इंडिया (1987)

श्रीदेवी की यह फिल्म सुपरहिट फिल्मो में से एक है इस फिल्म से उनहोने अपने प्रशंसकों को अपना दीवाना बना दिया था। इस फिल्म में श्रीदेवी ने अनिल कपूर के साथ एक सेक्सी सॉन्ग “कांटे नही कटते’ जो कि इस फिल्म का सबसे रूमांटिक सॉन्ग था। इस सॉन्ग से श्रीदेवी जवां दिलों की धड़कन बन गयी थी इस फिल्म के दुसरे गाने ‘हवा हवाई’ ने श्रीदेवी को एक नया नाम मिस हवा हवाई दिया था

चांदनी (1989)

श्रीदेवी की असली सुंदरता और उनकी सादगी इस फिल्म के जरिये सामने आई थी। यश चोपड़ा की इस फिल्म में श्रीदेवी ने अपने हुनर का परचम लहरा दिया था ऋषि कपूर के साथ उनकी केमिस्ट्री को दर्शकों ने बेहद पसंद किया था। इस फिल्म के आने के बाद सभी लड़कियां श्रीदेवी के स्टाइल और उनकी साड़ियों को कॉपी करने लगी थी.

चालबाज़ (1989)

इस फिल्म में श्रीदेवी ने पहली बार डबल रोल की भूमिका निभाई थी। फिल्म के गीत ना जाने कहाँ से आई है। लोगों को बेहद पसंद आया। इस फिल्म में श्रीदेवी ने जो भूमिका निभाई थी उस भूमिका का मुकाबला आज तक कोई नहीं कर पाया है। इस फिल्म से उन्हें एक्सप्रेशन क्वीन का खिताब भी मिला साथ ही उन्हें इस फिल्म के लिए फिल्म फेयर का अवॉर्ड भी मिला

लम्हे (1991)

हालाँकि ऐसा दौर भी आया जब श्री देवी ने कई फ्लॉप फिल्म भी दी लेकिन उन्होने फिर से यश चोपडा की फिल्म लम्हे से सिल्वर स्क्रीन पर वापसी की। इस फिल्म में भी उन्होने डबल किरदार निभाया था इस फिल्म के लिए भी उन्हें बेस्ट एक्ट्रेस फिल्म फेयर अवॉर्ड मिला था

लाडला (1994)

यह फिल्म कन्नड़ फिल्म का रीमेक था। लेकिन यह फिल्म श्रीदेवी के करियर की सबसे बड़ी सफलताओं में से एक मानी जाती है। इस फिल्म में श्रीदेवी ने शीतल के रूप में एक घमंडी औरत का किरदार निभाया था जिससे उनके अभिनय का एक और रूप सामने आया। आपको बता दें की इस फिल्म को श्रीदेवी कम समय में पूरा किया था

जुदाई (1997)

जुदाई एक फमली ड्रामा फिल्म थी जिसमे श्रीदेवी ने एक लालची पत्नी के रूप में दिखाया गया था। जो अपने पति को दुसरी अमीर औरत से शादी करने के लिए राजी करती है लेकिन वह ऐसी वास्तविक जीवन में बिलकुल भी नही है लेकिन फिर भी उन्होंने इस किरदार को बेहद शानदार रूप से निभाया

इंग्लिश विनग्लिश (2012)

जुदाई के बाद करीब 15 साल बाद उन्होंने फिल्म ‘इंग्लिश विनग्लिश’ से सिल्वर स्क्रीन पर वापसी की फिर अपने सभी प्रशंसकों को श्रीदेवी का वही रूप एक बार फिर देखने को मिला। इस फिल्म में उन्होंने एक कम पड़ी महिला का किरदार निभाया था जिसका हाथ इंग्लिश में टाइट है और जिसकी वजह से उसके परिवार वाले उससे दुरी बनाकर रखते है इस फिल्म में श्रीदेवी ने अपने आत्मसमान को कैसे वापिस पायें यह सिखाया था। 

मॉम (2017)

इस फिल्म श्रीदेवी ने एक ऐसी माँ की भुमिका निभाई थी जो अपनी बेटी के साथ हुई बदसलूकी का बदला लेती है इस फिल्म में श्रीदेवी के अंदर की एक माँ की धारणाएं देखने को मिली जो दर्शकों को बेहद पसंद भी आई इस लेख से हम श्रीदेवी की आत्मा की शांति की प्रार्थना करते है. हम अपनी चांदनी के लम्हे कभी नहीं भूल पाएंगे


➡ मायापुरी की लेटेस्ट ख़बरों को इंग्लिश में पढ़ने के लिए www.bollyy.com पर क्लिक करें.
➡ अगर आप विडियो देखना ज्यादा पसंद करते हैं तो आप हमारे यूट्यूब चैनल Mayapuri Cut पर जा सकते हैं.
➡ आप हमसे जुड़ने के लिए हमारे पेज Facebook, Twitter और Instagram परa जा सकते हैं.

Leave a Reply