आर के स्टूडियो के बाद बिक गया कमालिस्तान स्टूडियो, यहीं हुई थी ‘पाकीज़ा’, ‘अमर-अकबर-एंथनी’ की शूटिंग

0 10

आरके स्टूडियो के बाद जल्द ही अब एक और स्टूडियो हमेशा के लिए बंद हो जाएगा। खबर के मुताबिक, 60 साल पुराने कमाल अमरोही के ‘कमालिस्तान स्टूडियो’ की जगह अब एक कमर्शियल प्रॉपर्टी बनाई जाएगी। बता दें कि इस ऐतिहासिक स्टूडियो में कई क्लासिक फिल्में बनीं थीं और अब ये सबको अलविदा कहने वाला है।

खबरों की मानें तो मुंबई के जोगेश्वरी इलाके में 15 एकड़ में फैली इस जमीन पर जल्द ही देश का सबसे बड़ा कॉर्पोरेट ऑफिस तैयार किया जाएगा। स्टूडियो को तोड़कर यहां पूरी तरह से नया कंस्ट्रक्शन होगा। बताया जा रहा है कि डीबी रियलिटी और बेंगलुरु की RMZ कॉर्पोरेशन ने मिलकर इस जमीन को नए सिरे से डेवलप करने का फैसला लिया है। यह डेवलपमेंट प्रोजेक्ट करीब 21 हजार करोड़ रुपए का है।

आपको बता दें कि कमाल अमरोही ने साल 1958 में ‘कमालिस्तान स्टूडियो’ की स्थापना की थी। इस स्टूडियो में ‘महल’ (1949), ‘पाकीजा’ (1972) और ‘रजिया सुल्तान’ (1983) जैसी फिल्मों की शूटिंग हुई। ‘अमर अकबर एंथनी’ और ‘कालिया’ जैसी हिट फिल्में भी यहीं शूट हुई हैं।

आर के स्टूडियो के बाद मुंबई में ये दूसरा ऐतिहासिक स्टूडियो है जिसे बेचा गया है। इससे पहले आरके स्टूडियो की खबर ने सभी को गमगीन किया था। मुंबई के चेंबूर में बने आरके स्टूडियो को गोदरेज प्रॉपर्टीज लिमिटेड ने खरीदा है।

खबरों के मुताबिक, तो यह स्टूडियो करीब 500 करोड़ रुपए में बिका था। इस स्टूडियो की स्थापना 1948 में की गई थी। यहां ‘राम तेरी गंगा मैली’, ‘प्रेम रोग’, ‘मेरा नाम जोकर’, ‘आवारा’ जैसी कई महान फिल्में बनीं। इस स्टूडियो की जगह अब एक लग्जरी रिटेल सेंटर बनेगा।

➡ मायापुरी की लेटेस्ट ख़बरों को इंग्लिश में पढ़ने के लिए www.bollyy.com पर क्लिक करें.
➡ अगर आप विडियो देखना ज्यादा पसंद करते हैं तो आप हमारे यूट्यूब चैनल Mayapuri Cut पर जा सकते हैं.
➡ आप हमसे जुड़ने के लिए हमारे पेज FacebookTwitter और Instagram पर जा सकते हैं.

Leave a Reply