सितारों के घरों पर क्यों चलता है बुलडोज़र ?

0 745

बॉलीवुड नगरी में महानगर पालिका का बुलडोज़र चलाये जाने की नई घटना सामने आयी है। पार्श्वगायक स्व. किशोर कुमार के बंगले ‘गौरी कुंज’ पर मुंबई ‘मनपा’ ने तोड़ फोड़ की है। वजह? वही ‘एक्सटेंशन’। यानी- ‘परिवार’ का एक्सटेंशन हो या ‘रिहायश’ का… सितारे आरोप के शिकार होते ही हैं। इससे पहले कपिल शर्मा, अरशद वारसी, शाहरुख खान और शत्रुघ्न सिन्हा के घरों पर बुलडोज़र (कम हथौड़ा) चला था। अब, लीना चंदावरकर को मनपा अधिकारी मापने के नोटिस पर भेज रखे हैं, यह बोलकर कि बंगले का एक्सटेंशन अवैध है।

होता क्यों है ऐसा? यह एक सहज सवाल है। जो सितारे सरकारी भोंपू बनकर सफाई हो या बिमारियां या किसी प्रदेश का प्रचारक होना…बड़ी ईमानदारी से लोगों को पाक-साफ संदेश देते हैं, वे ही अपने घरों के आस पास की खाली जमीन हड़पने की कोशिश में लग जाते हैं। शाहरुख खान ने दफ्तर के ऊपरी मंजिल के एक हिस्से में रेस्टोरेंट खोला था तो किशोर कुमार के ‘गौरीकुंज’ में एक तरफ रेस्टोरेंट बनाकर किराये पर दिया गया है। शत्रुघ्न सिन्हा की आठमंजिला बिल्डिंग ‘रामायण’ में कई शौचालय बनाये जाना बिना अनुमति के था, ऐसा आरोप था और अधिकारी हथौडे़ के साथ घर में पहुंचे थे। तब, कहा गया शत्रु जी से सत्ता पार्टी नाखुशी का इजहार कर रही है। बहरहाल कुछ समय पहले दिलीप कुमार के ‘रेन्यूवेट’ होने वाले बंगले और अमिताभ के पुराने बंगले ‘प्रतीक्षा’ पर भी तोड़क दस्तों की भृकुटी तनी थी और इरफान खान को भी फ्लैट पर नोटिस मिल गया था। जो भी हो, सवाल वहीं का वहीं है कि क्यों होता है ऐसा?

एक फिल्मी पंडित का नजरिया यहां उल्लेखनीय है कि पहले नगरपालिका अधिकारी, पुलिस अधिकारी, कर अधिकारी या जितने भी ‘जरूरती’ अधिकारी होते हैं पहले सितारों की दोस्ती पाने के लालच में खुद उनको छूट देते हैं- ‘ये कर लो, वो कर लो – हम हैं न!’ और सितारों के घरों का एक्सटेंशन करवा देते हैं। अतिथियों की भीड़ और फैन्स की दिक्कतों को देखकर सितारों के घर ‘एक्सटेन्ड’ हो जाते हैं। फिर जब वहां उस एरिया में दूसरा अधिकारी बदली पर आता है, वो भी सितारों की दोस्ती पाने के लिए हरकतें करता है जो प्रायः तोड़क रूप में सामने आती है। यानी- सब मामला सितारों से नजदीकी बढ़ाने का है। कुछ समझे आप ?

चलते चलते…

मुंबई मनपा ने रानी मुखर्जी के जुहू स्थित कृष्णाराम बंगला और यशराज स्टूडियो के बेसमेन्ट में किये गये अल्टरेशन को भी तोड़ने का नोटिस भेजा है। यश चोपड़ा के स्टूडियो ल्त्थ् को नोटिस देने के पीछे सावधानी बरतना बताया गया है। सिनेविस्टा स्टूडियो और आर.के. स्टूडियो में आग लगने की घटना के बाद महानगर पालिका सभी स्टूडियो की निगरानी पर है और अवैध बंधकों को तोड़ने का नोटिस दे रही है।

➡ मायापुरी की लेटेस्ट ख़बरों को इंग्लिश में पढ़ने के लिए  www.bollyy.com पर क्लिक करें.
➡ अगर आप विडियो देखना ज्यादा पसंद करते हैं तो आप हमारे यूट्यूब चैनल Mayapuri Cut पर जा सकते हैं.
➡ आप हमसे जुड़ने के लिए हमारे पेज Facebook, Twitter और Instagram परa जा सकते हैं.

Comments
Loading...