औरों को बुरा साबित करना बॉलीवुड की पुरानी आदत है…

0 693

एक वृद्ध ने अपने जवान पड़ोसी पर आरोप लगाया कि वह चोर है। युवक को पुलिस पकड़ कर ले गई। बाद में वह निरपराध साबित होकर बाहर आया और वृद्ध व्यक्ति पर मानहानि का मुकदमा दर्ज करा दिया। जज ने वृद्ध को सजा देते समय कहा कि तुमने जो कुछ कहा है, एक पेपर पर लिख कर उसके टुकड़े-टुकड़े करके बाहर फेंक दो। उसने वैसा ही किया, चारों तरफ और अपनी गाड़ी के इर्द-गिर्द फेंक दिए। अगले दिन फैसला सुनाने के समय जज ने उस आदमी को कहा कि सारे टुकड़े इकट्ठे करके लाओ। वह व्यक्ति हैरान हो गया – यह कैसे हो सकता है, वो सब तो हवा में उड़ चुके हैं।जज ने कहा- ऐसे ही, जो कुछ किसी की इज्जत उछालने के लिए तुमने कहा था- वो शब्द फैल गये जिनको तुम वापस नहीं ला सकते। इसलिए जुबान खोलने और किसी पर आरोप थोपने से पहले सोचो।

सचमुच इस घटना से याद आती है साहिर लुधियानवी की वर्षों पहले लिखी लाइन – अच्छों को बुरा साबित करना दुनिया की पुरानी आदत है।बॉलीवुड में ऐसी घटनाएं प्रायः हुआ करती हैं। शायद इसीलिए, रफी की आवाज में रवि ने इस गीत का संगीत इतना सरल बनाया था कि जन-जन में कई दशक पहले, इस गीत के शब्द अपना असर दिखा गये थे। जहां तक बॉलीवुड या सिने-संसार की बात है यहां के लोग फिल्म काजलके इस गीत से आजतक कुछ नहीं सीखे हैं। यहां के लोग मौका ढूंढते हैं कि किसी चढ़ते व्यक्ति को कैसे बदनाम कर दिया जाए। क्योंकि कुछ तो लोग कहेंगे लोगों का काम है कहना, लेकिन बात कहने तक ही सीमित हो तो भी ठीक है। यहां तो कुछ ऐसे उदाहरण भी हैं लोग अपने सुपर स्टार्स को जिन्हें वो जी जान से चाहते हैं को जीते जी मार देने की अफवाहें फैला देते हैं। जैसे, अटल बिहारी वाजपेयी, बाबा रामदेव, दिलीप कुमार,अमिताभ बच्चन और हाल ही में अपने जमाने की सुपर स्टार मुमताज के मरने की खबरें जोरों पर थी। दीपिका पादुकोण पर मानसिक बिमारी का आरोप किसने-कब लगाया यह तो पता नहीं चला, मगर दीपिका के पास छः माह तक एक भी निर्माता उनको साइन करने नहीं गया था। शिल्पा शेट्टी के पति राज कुंद्रा को बदनाम करने के लिए कहा गया कि वह स्पोर्टस के एक कपड़े व्यापारी का पैसा खा गए तथा शिल्पा से डायवोर्स ले रहे हैं, सारी खबरें झूठी साबित हुई। प्रियंका चोपड़ा के सेक्रेटरी की नौकरी इसलिए गई थी कि उन पर गंदे आरोप गढ़े गये थे। ऐश्वर्य राय बच्चन के आत्महत्या की खबर उड़ाया जाना,,, और, ऐसी तमाम खबरें हैं जो लोग चटकारे लेकर सुनाते तो हैं किन्तु उनके असर से अनजान रहते हैं। वृद्ध आदमी जिसने युवक को चोर बोला था, उसके लिए जज साहब की नसीहत बॉलीवुड के लिए कोई मायने नहीं रखती क्योंकि औरों को बुरा साबित करना बॉलीवुड की पुरानी आदत है!

  संपादक

➡ मायापुरी की लेटेस्ट ख़बरों को इंग्लिश में पढ़ने के लिए  www.bollyy.com पर क्लिक करें.
➡ अगर आप विडियो देखना ज्यादा पसंद करते हैं तो आप हमारे यूट्यूब चैनल Mayapuri Cut पर जा सकते हैं.
➡ आप हमसे जुड़ने के लिए हमारे पेज Facebook, Twitter और Instagram पर जा सकते हैं.

 

Comments
Loading...