प्रियंका ने उठाई आवाज़, हॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री में माँगा महिलाओं का समान अधिकार

बॉलीवुड से हॉलीवुड इंडस्ट्री के स्टार्स में शुमार हो चुकी प्रियंका जो हमेशा औरों से हट कर कुछ करने में यकीं करती हैं। उन्होंने एक नया मुद्दा उठा दिया है और वो मुद्दा है, फ़िल्म इंडस्ट्री में महिलाओं की समानता का मुद्दा और वो भी बॉलीवुड नहीं बल्कि हॉलीवुड फ़िल्म इंडस्ट्री में, जिसे जानकर आप सभी को प्रियंका पर नाज़ ज़रूर होगा। प्रियंका का मानना है कि लिंग के आधार पर असमानता सिर्फ़ भारत ही नहीं, बल्कि पश्चिम देशों में भी देखी जाती है और लड़कियों को अपने पेशे में पुरुषों की ओर से मिलने वाली कई चुनौतियों का सामना करना पड़ता है, जिनमें से एक लिंग के आधार पर भेदभाव भी है। जिसके खिलाफ प्रियंका ने अपनी तरफ से मोर्चा खोल दिया हैं, ताकि फ़िल्म इंडस्ट्री में महिलाओं को पुरुषों के समान ही बेहतर रोल्स मिल सकें। प्रियंका ने एक इंटरव्यू के दौरान कहा कि हॉलीवुड में वो अगली पीढ़ी के लिए मुश्किलें कम करना चाहती हैं।

असल में ये बात तब कि है जब एक एंटरटेनमेंट शो में प्रियंका ने कहा, ”महिलाओं के लिए एंटरटेनमेंट या हॉलीवुड में रोल नहीं लिखे जाते हैं, इसलिए उनके पास अधिक च्वाइस नहीं होती। हम इतना पीछे हैं कि हमारे पास सिर्फ़ एक वंडर वुमन है, जो कि हमारी पहली बड़ी सुपर हीरो फ़िल्म है, जिसे एक महिला ने डायरेक्ट किया है। एंटरटेनमेंट के इतिहास में सिर्फ़ एक महिला डायरेक्टर एकेडमी अवॉर्ड जीत पायी हैं। आख़िर ये क्या है।” उसके बाद दूसरी बार प्रियंका चोपड़ा ने इस मुद्दे को एक बार फिर हाल ही में टोरंटो फ़िल्म फ़ेस्टिवल में शिरकत के दौरान उठाया । फ़ेस्टिवल में उनकी होम प्रोडक्शन फ़िल्म ‘पाहुना- द लिटिल विज़िटर्स’ का प्रीमियर हुआ था। इस बारे में उन्होंने कहा कि वो ये देखकर ख़ुश हैं कि फ़ेस्टिवल अपने तरीक़े से एंटरटेनमेंट में महिलाओं की मदद कर रहा है, ”मैंने इस मुद्दे को उठा लिया है और कभी शांति से नहीं बैठूंगी, क्योंकि इसमें मेरी जैसी तमाम दूसरी महिलाओं को जुटने की ज़रूरत है, ताकि अगली पीढ़ी के लिए चीज़ें आसान हो जाएं।” भाई प्रियंका कि ये हरकतें देख कर तो लगता है कि वो दिन प दिन बागी होती जा रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *