फुल धमाल मनोरजंन यानि ‘जुड़वा 2’

रेटिंग***

कोई डायरेक्टर बीस साल बाद अपनी ही फिल्म का रीमेक बनाये और ये अपने आपमें करिश्मा ही है कि निर्देशक डेविड धवन की पहली फिल्म ‘ जुड़वा’ की तरह ‘जुड़वा 2’ भी एक फुल धमाल एन्टरमेन्ट फिल्म साबित हुई है।

फिल्म की कहानी में कुछ ज्यादा हेर फेर नहीं है। वही मुंबई में ऐसे जुड़वा बच्चों का पैदा होना,जो करोड़ों में एक होते हैं। फिर उनमें से एक को विलन उठा ले जाता है और कहीं छोड़ देता है। जिसे एक मराठी औरत पालती है। विलन के डर से दूसरे के पेरेन्ट्स लंदन चले जाते हैं। बाद में किस प्रकार दोनो भाई आमने सामने आते हैं और उसके बाद दुश्मनों का संहार करते हैं।

एक वक्त था जब डेविड धवन की फिल्मों के हिट होने की गारंटी होती थी। डेविड ने गोविंदा और सलमान खान के साथ कई सुपर हिट फिल्में बनाई, जिनमें जुड़वा भी थी। अब करीब बीस साल बाद एक बार फिर डेविड धवन ने जुड़वा का रीमेक अपने बेटे वरूण धवन के साथ बनाया है। फिल्म की चुस्त पटकथा, चुटीले संवाद तथा बढ़िया संपादन और लंदन की खूबसूरत लोकेशनें दर्शक को शुरू से आखिर तक बांधे रखती हैं।

वरूण धवन एक ऐसा अभिनेता है जिसमें एक सफल एन्टरटेनर की सभी योग्यतायें मौजूद हैं। यहां उसने अपनी दोनों भूमिकाओं को बेहतरीन ढंग से अंजाम तक पहुंचाया है। जैकलिन फर्नांडीज तथा तापसी पन्नू ग्लेमरस और खूबसूरत लगी हैं, उन्होंने भी अपनी अपनी भूमिकाओं के साथ साथ न्याय किया है। एक अरसे बाद राजपाल यादव की अच्छी वापसी हुई है। सहयोगी भूमिकाओं में सचिन खांडीलकर, मनोज, जोशी, मनोज पाहवा, जाकिर हुसैन, प्राची देसाई, उपासना सिंह, अनुपम खेर तथा पवन मल्हौत्रा आदि ने भी उललेखनीय काम किया है। अंत में ऑरीजिनल जु़ड़वा यानि सलमान खान भी अपनी उपस्थिति दर्ज करवा जाते हैं।

अंत में फिल्म को लेकर यही कहना है कि इसमें कोई शक नहीं कि ऑरीजिनल जुड़वा की तरह जुड़वा 2 भी फुल धमाल मनोरंजक फिल्म है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *