हॉलीवुड की तर्ज पर बॉलीवुड में भी #MeToo आंदोलन की शुरूआत 

0 28
नाना पाटेकर पर दस साल पहले की एक घटना को लेकर जो आरोप तनुश्री दत्ता ने दर्ज कराया है, उसे प्रबुद्ध वर्ग बड़ी गंभीरता से ले रहा है। दरअसल ‘ओमेन इंपावरमेंट’ के इस युग में यह ‘आरोप’ एक आंदोलन के रूप में मुखरित हो सकता है, इस बात की आशंका जताई जा रही है। पहले ‘जो हो गया भूल गया’ का अंदाज बॉलीवुड का रवैया था। लेकिन, अब, जब से हॉलीवुड की हीरोइनों ने अपने साथ हुए बलात्कार के किस्से को बढ़ चढ़ कर बताना शुरू किया है, एक आंदोलन रुडम् ज्वव के तहत, समझा जा रहा है बॉलीवुड उसी राह पर जा रहा है। तनुश्री दत्ता की तरह बहुत सी बॉलीवुडिया बालिकाएं रु मी टू का  झंडा लेकर आगे आ सकती हैं। नाना पाटेकर पर ऐसा आरोप लगना बॉलीवुड की पहली घटना नहीं है। कुछ समय पहले जितेन्द्र पर उनकी एक कज़िन ने आरोप लगाकर केस दर्ज कराया था कि जब वह 18 साल की थी और जितेन्द्र 28 के थे, उसका यौन शोषण किया था। नवाजुद्दीन सिद्दीकी, कपिल शर्मा, इंदर कुमार (स्व.), आदित्य पंचोली, अभिजित पर भी ऐसे आरोप लग चुके हैं। निर्देशक दिवाकर बनर्जी पर फिल्म ‘शंघाई’ के दौरान ‘कुछ’ करने का आरोप पायल रोहतगी ने भी लगाया था। शाइनी आहूजा और मधुर भंडारकर का केस तो जग जाहिर है। ‘आशिकी 2’ से चर्चा में आने के बाद अंकित तिवारी के गायन करियर पर जो असर पड़ा, सब जानते हैं कि एक लड़की ने उन पर विवाह करने के झांसे में एक साल यौन शोषण का आरोप मढ़ा था। करीम मोरानी, मेहमूद फारूखी (‘पीपली लाइव’), सुभाष कपूर (‘जॉली एलएलबी’ के निर्देशक) गायक-वडाली पर यौन शोषण के आरोप लग चुके हैं। बॉलीवुड के लिए ये आरोप नये नहीं है, जो नाना पर लगे हैं। लेकिन, तनुश्री दत्ता के सपोर्ट में जिस तरह दूसरी तारिकाएं (स्वरा भास्कर, प्रियंका चोपड़ा, सोनम कपूर, परिणीति, ट्विंकल खन्ना आदि) ट्वीट कर रही हैं, उससे लगता है नारी-जागृति के इस दर्शक में बहुत सी तारिकाएं दशकों पुरानी अपनी कहानी लेकर बाहर आयेंगी। अमिताभ, आमिर सलमान जैसे सितारे भले ही अपनी प्रतिक्रिया देने से बच रहे हों पर जानते सब हैं कि रु मी टू का एक आंदोलन शुरू हो चुका है। कब कौन सी हीरोइन, किस सितारे की करनी का गुबार निकाल बैठेगी… यह तो वक्त ही बताएगा ?
Comments
Loading...